suran ki sabji-स्वादिष्ट बनाने की पूरी जानकारी

आज हम आपको यहाँ suran ki sabji की संवेदनशील और स्वास्थ्यप्रद दुनिया का अन्वेषण करवाएंगे, जो सुरन (Elephant foot yam) के अद्वितीय स्वाद को प्रदर्शित करने वाले एक मोहक और पौष्टिक व्यंजन का प्रतिष्ठान करता है।यहाँ आप आसानी से सुरन की सब्जी बनाने की चरणबद्ध प्रक्रिया को जानेगे, इसके अद्भुत स्वास्थ्य लाभों को, इस्से जूडी खोजें और प्याज रहित बनाने और वेजनों के लिए यह कितना उपयुक्त है जैसे सामान्य सवालों के जवाब देखेंगे।सबसे पहले हम सुरन को समझने की कोशिस करेंगे और फिर सुरन की सब्जी बनाने के लिए सामग्री को देखेंगे। तो आइये आपको इन सभी चीज़ों से रूबरू करवाते हैं और स्वादिष्ट suran ki sabji बनाने का आसान तरीका सिखाते हैं।

suran ki sabji

suran ki sabji क्या है ?

सुरन एक ऐसा भारत का पचलित पकवान है जिसे यदि अच्छे तरीके से बनाया जय तो इसका स्वाद बहुत ही स्वादिष्ट बन जाता है। इसे जिमीकंद भी कहा जाता है, लेकिन बिहार में इसे लोग ओल कहते है। इंग्लिश में (Elephant foot yam) कहा जाता है और गुजरती भाषा में इसे (Suran nu Shaak) कहते है। जिस तरह से आलू, शकरगंड, गाजर, मूली, मिटटी में पैदा होती है ठीक उसी प्रकार से सुरन भी मिटटी के भीतर पैदा होता है। इसकी अच्छी बात यह है की ये बाजार में बड़ी आसानी से मिल जाता है।

सुरन की सब्जी को बनाने का समय

सामग्री की तैयारी का समय – 25 मिनट
पकने का समय – 35 मिनट
कुल समय = 1 घंटा

suran ki sabji

सुरन की सब्जी बनाने की सामग्री

  • -आधा किलो – सुरन
    -2 प्याज़
    -2- टमाटर
    -1- नींबू
    -आधा कप-दही
    -1 इंच लंबा टुकड़ा- अदरक
    -1/2 टेबल स्‍पून- जीरा
    -1/4 टेबल स्‍पून- राई
    -1 पिंच- हींग
    -1 टेबल स्‍पून- हल्दी पाउडर
    -1 टेबल स्‍पून- धनियां पाउडर
    -1 टेबल स्‍पून- लाल पॉउडर
    -1 टेबल स्‍पून- गरम मसाला
    -4- हरी मिर्च
    -अंदाजानुसार- तेल
    -स्वादानुसार- नमक
    -2-3 टेबल स्पून- हरा धनियां
    -5 या 6 कप पानी

 

suran ki sabji बनाने के लिए इन चरणों का पालन करें:

1. सूरन को छीलकर छोटे टुकड़ों में काट लीजिए.
2. एक पैन में थोड़ा सा तेल गर्म करें और इसमें सुगंधित जीरा डालें.
3. प्याज को सुनहरा भूरा होने तक भूनें.
4. इसमें अदरक और लहसुन डालकर एक मिनट तक पकाएं.
5. इसमें टमाटर डालकर नरम होने तक पकाएं.
6. अपने स्वाद के अनुरूप स्वादों को मिलाएं, उदाहरण के लिए, हल्दी पाउडर, लाल स्टू पाउडर, धनिया पाउडर और नमक।
7. इसमें कटे हुए सूरन के टुकड़े अच्छी तरह मिला लीजिए.
8. पैन को ढककर सूरन नरम होने तक पकाएं.
9. ताजी हरी धनिया से सजाकर डिश को गर्मागर्म परोसें।

Suran ki sabji

निष्कर्ष:

बधाई हो! आपने suran ki sabji को बनाने की यात्रा पूरी कर ली है। सुरन की रेसिपी आपकी रसोई में आपकी विशेषज्ञता के स्तर के बावजूद,आपके पाक भंडार में एक बहुमुखी और स्वादिष्ट वृद्धि प्रदान करेगी। अब आप इस रेसिपी को बनाने में मास्टर बन चुके हो। इसके स्वादों को टेस्ट करे और इस स्वादिष्ट व्यंजन की संपूर्ण अच्छाइयों का आनंद लें।

suran ki sabji

 

सूरन की सब्जी के स्वास्थ्य लाभ ?

Suran ki sabji कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है:
1. आहार फाइबर में प्रचुर मात्रा में: सूरन आहार फाइबर का एक उत्कृष्ट स्रोत है, पाचन में सहायता करता है और स्वस्थ आंत को बढ़ावा देता है।
2. कम कैलोरी: सूरन की सब्जी एक कम कैलोरी वाला व्यंजन है, जो इसे वजन के प्रति जागरूक व्यक्तियों के लिए एक आदर्श विकल्प बनाता है।
3. आवश्यक पोषक तत्व: सूरन में पोटेशियम, विटामिन सी और बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व होते हैं, जो समग्र कल्याण का समर्थन करते हैं।
4. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है: सूरन के एंटीऑक्सीडेंट प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं, जिससे बीमारियों से बचाव में मदद मिलती है।
5. हृदय के लिए स्वस्थ: खाना पकाने के स्वस्थ तरीकों का उपयोग करके तैयार किए जाने पर सूरन में कम कोलेस्ट्रॉल और संतृप्त वसा की मात्रा इसे हृदय के लिए अनुकूल बनाती है।

बिना प्याज के सूरन की सब्जी कैसे बनाए ?

दरअसल, suran ki sabji बिना प्याज के भी बनाई जा सकती है. बस नुस्खा से प्याज हटा दें और पहले बताई गई खाना पकाने की प्रक्रिया का पालन करें। स्वाद बढ़ाने के लिए, आप थोड़ा अधिक अदरक और लहसुन डालकर प्याज की कमी की भरपाई कर सकते हैं।

शाकाहारी लोगों के लिए सूरन की सब्जी

suran ki sabji शाकाहारी लोगों के लिए एक आदर्श विकल्प है, क्योंकि यह सूरन और ढेर सारे शाकाहारी-अनुकूल मसालों और सामग्रियों से तैयार किया गया एक पौधा-आधारित व्यंजन है। यह शाकाहारी लोगों के लिए स्वादिष्ट भोजन का आनंद लेने का एक स्वादिष्ट और संतोषजनक विकल्प प्रस्तुत करता है।

अपनी suran ki sabji को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए, इन विशेषज्ञ युक्तियों पर विचार करें:

– स्वाद और स्थिरता बढ़ाने के लिए सख्त बनावट वाला ताज़ा सूरन चुनें।
– रंग खराब होने से बचाने के लिए कटे हुए सूरन के टुकड़ों को पानी में भिगो दें।
– स्वाद प्रोफ़ाइल को वैयक्तिकृत करने के लिए अतिरिक्त मसालों और जड़ी-बूटियों के साथ प्रयोग करें।
– पौष्टिक स्वाद के लिए तलने के बजाय भाप में पकाना या पकाना जैसी स्वास्थ्यप्रद खाना पकाने की विधियाँ अपनाएँ।
– एक संपूर्ण भोजन अनुभव के लिए सूरन की सब्जी को रोटी या चावल के साथ परोसें।
– बची हुई suran ki sabji को एक सीलबंद कंटेनर में 2-3 दिनों के लिए फ्रिज में रख दें।

प्रसन्ना: दोस्तो मझे ये रेसिपी बहुत पसंद है और मुझे इसके स्वास्थ्य लभो ने अधिक प्रसन्न किया है।

FAQ:

Q1. सुरन का पेड़ कैसा होता है ?

Ans. सुरन का पेड़ एक विशालकाय पेड़ होता है अधिकतम लम्बाई 20 मीटर होती है। इसकी पत्तियाँ मोटी और बड़ी होती है। यह पेड़ गर्म क्षेत्र में पाया जाता है।

Q2.सुरन की सब्जी के फायदे ?

ANS. सुरन स्वाद के अतिरिक्त एक स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद फल होता है। जिसमे पोटेशियम, विटामिन सी और बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व होते हैं, जो समग्र कल्याण का समर्थन करते हैं।

Q3. सुरन की सब्जी क्यों खाई जाती है ?

Ans. सुरन की सब्जी अधिकतर दिवाली और दशहरे पर खाई जाती है इसके अलावा यह हमारे स्वास्थ्य के लिए भी खाई जाती है।

Q4. क्या शुगर पेशंट सुरन खा सकते है ?

Ans. जी बिलकुल! एक शुगर का पेशंट सुरन खा सकता है क्युकी यह उसके लिए और भी फायदेमंद साबित होगा इसमें मौजूद पोषक तत्व ब्लड शुगर को बनाये रखते है जिससे पेशंट को रहत मिलती है।

Q5. क्या सुरन कब्ज के लिए अच्छा होता है ?

Ans. सुरन प्राकर्तिक तरह से मौजूद फाइबर के कारन कब्ज से छुटकारा दिलाने में सहायता करता है। इसको सही तरिके से पकाकर या सूखा कर खाया जा सकता है जिससे कब्ज ख़तम हो सकता है।

Reed more recipes-

Kathal ki sabji recipe-

kathal ki sabji kaise banate hai

 

 

 

 

Rasgulle ki recipe-

rasgulla kaise banta hai

 

 

 

 

 

You can buy this >

 

Leave a comment